Cricket : Khel Aur Niyam

0
40


Price: ₹ 100.00
(as of Oct 22,2020 23:47:41 UTC – Details)


आज के युग का सबसे चर्चित और लोकप्रिय खेल क्रिकेट एक बल्ले और गेंद का दलीय खेल है, जिसकी शुरुआत दक्षिणी इंग्लैंड में हुई थी। क्रिकेट के कई रूप हैं; इसका उच्चतम स्तर टेस्ट क्रिकेट है, जिसमें वर्तमान प्रमुख राष्‍ट्रीय टीमें भारत, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान व बांग्लादेश हैं। एक क्रिकेट मुकाबले में 11 खिलाड़ियों के दो दल होते हैं। इसे घास के मैदान में खेला जाता है, जिसके केंद्र में भूमि की एक समतल लंबी पट्टी होती है, जिसे पिच कहते हैं। विकेट लकड़ी से बनी होती हैं, जिसे पिच के दो सिरों पर लगाया जाता है और उसका प्रयोग एक लक्ष्य के रूप में किया जाता है। गेंदबाज क्षेत्ररक्षण टीम का एक खिलाड़ी होता है, जो गेंदबाजी के लिए एक सख्त, चमड़े की मुट्ठी के आकार की 5.5 आउंस (160 ग्राम) वजन की क्रिकेट की गेंद को एक विकेट के पास से दूसरे विकेट की ओर फेंकता है, जिसे विपक्षी टीम के एक खिलाड़ी बल्लेबाज के द्वारा मारा जाता है। गेंदबाज की टीम के अन्य सदस्य मैदान में क्षेत्ररक्षक के रूप में अलग-अलग स्थितियों में खड़े रहते हैं। खेल की अवधि के आधार पर विभिन्न नियम हैं, जो खेल में जीत, हार अनिर्णीत (ड्रॉ) या बराबरी (टाई) का निर्धारण करते हैं। क्रिकेट को अपना कॉरियर बनाने के इच्छुक युवाओं, खिलाड़ियों एवं खेल-प्रेमियों के लिए एक उपयोगी और मार्गदर्शक पुस्तक।.


From the Publisher

Cricket : Khel Aur Niyam by SURENDRA SHRIVASTAVA

Cricket : Khel Aur Niyam by SURENDRA SHRIVASTAVACricket : Khel Aur Niyam by SURENDRA SHRIVASTAVA

खेल की अवधि के आधार पर विभिन्न नियम हैं; जो खेल में जीत; हार अनिर्णीत (ड्रॉ) या बराबरी (टाई) का निर्धारण करते हैं।

आज के युग का सबसे चर्चित और लोकप्रिय खेल क्रिकेट एक बल्ले और गेंद का दलीय खेल है; जिसकी शुरुआत दक्षिणी इंग्लैंड में हुई थी। क्रिकेट के कई रूप हैं; इसका उच्चतम स्तर टेस्ट क्रिकेट है; जिसमें वर्तमान प्रमुख राष्‍ट्रीय टीमें भारत; ऑस्ट्रेलिया; दक्षिण अफ्रीका; इंग्लैंड; श्रीलंका; वेस्टइंडीज; न्यूजीलैंड; पाकिस्तान व बांग्लादेश हैं।

===================================================================================================================

एक क्रिकेट मुकाबले में 11 खिलाड़ियों के दो दल होते हैं। इसे घास के मैदान में खेला जाता है; जिसके केंद्र में भूमि की एक समतल लंबी पट्टी होती है; जिसे पिच कहते हैं। विकेट लकड़ी से बनी होती हैं; जिसे पिच के दो सिरों पर लगाया जाता है और उसका प्रयोग एक लक्ष्य के रूप में किया जाता है। गेंदबाज क्षेत्ररक्षण टीम का एक खिलाड़ी होता है; जो गेंदबाजी के लिए एक सख्त; चमड़े की मुट्ठी के आकार की 5.5 आउंस (160 ग्राम) वजन की क्रिकेट की गेंद को एक विकेट के पास से दूसरे विकेट की ओर फेंकता है; जिसे विपक्षी टीम के एक खिलाड़ी बल्लेबाज के द्वारा मारा जाता है। गेंदबाज की टीम के अन्य सदस्य मैदान में क्षेत्ररक्षक के रूप में अलग-अलग स्थितियों में खड़े रहते हैं।

===================================================================================================================

खेल की अवधि के आधार पर विभिन्न नियम हैं; जो खेल में जीत; हार अनिर्णीत (ड्रॉ) या बराबरी (टाई) का निर्धारण करते हैं। क्रिकेट को अपना कॉरियर बनाने के इच्छुक युवाओं; खिलाड़ियों एवं खेल-प्रेमियों के लिए एक उपयोगी और मार्गदर्शक पुस्तक।

===================================================================================================================

*****

अन्य लेखकों की प्रसिद्ध कृतियां भी इसमें सम्मिलित हैं।

Khel Aur Khiladi

Khel Aur Khiladi

Cricket Ke Sitare

Cricket Ke Sitare

Cricket Ki Rochak Baten

Cricket Ki Rochak Baten

Cricket : Khel Aur Niyam

Cricket : Khel Aur Niyam

Khel Aur Khiladi

खेल और खिलाड़ी—सुनील गावस्कर सुनील ‘सनी’ गावस्कर दुनिया भर में करोड़ों लोगों के आदर्श हैं। उनके बल्ले के जादू ने कई रिकॉर्ड बनाए और उतने ही लोगों के दिल जीते। उनके कटु आलोचकों को भी मानना पड़ा कि वह वाकई ‘लिटिल मास्टर’ हैं। बाद में गावस्कर क्रिकेटर से एक विशेषज्ञ कमेंटेटर और स्तंभकार बन गए। उनके स्तंभों की पूरे मीडिया-जगत् में धूम है। उनके लेख केवल खेल तक सीमित नहीं रहते बल्कि अन्य खेलों और उनके महान् खिलाड़ियों पर भी वे अपनी विचारपूर्ण टिप्पणी करते हैं। उनके विषय केवल क्रिकेट का मैदान नहीं बल्कि खिलाड़ियों का अनुशासन, उनकी टीम-भावना तथा उनका प्रदर्शन आदि रहता है।

Cricket Ke Sitare

प्रस्तुत पुस्तक में भारत के श्रेष्ठ क्रिकेट खिलाड़ियों से संबंधित अनेक जानकारियाँ हैं; जिनमें महानतम बल्लेबाज सी.के. नायडू, विजय मर्चेंट, लाला अमरनाथ से लेकर सचिन तेंदुलकर तक की बल्लेबाजी का कौशल है, तो गेंदबाजों में मोहम्मद निसार, अमर सिंह से होते हुए भागवत चंद्रशेखर, हरफनमौला अमरसिंह और कपिलदेव आदि का चमत्कारी करतब है, साथ ही विकेटकीपर जनार्दन नावले से लेकर सैयद किरमानी और क्षेत्ररक्षक लालसिंह से लेकर मो. अजहरुद्दीन तक की विश्व स्तरीय प्रतिभाओं को बहुत ही सुगठित तरीके से रेखांकित किया गया है। पुस्तक के अंत में क्रिकेट इतिहास में भारतीय क्रिकेट खिलाड़ियों की महान् उपलब्धियों को उनकी मोहक तसवीर के साथ प्रस्तुत किया गया है।

Cricket Ki Rochak Baten

क्रिकेट एक गतिशील खेल है। यह रोचकता एवं रोमांचकता से परिपूर्ण है। क्रिकेट की अनिश्‍च‌ितता और इसके उतार-चढ़ाव ही तो इसमें थिरकन और स्पंदन उत्पन्न कर दर्शकों को सुखद आनंद प्रदान करते हैं। कभी खिलाड़ियों के आश्‍चर्यजनक असाधारण प्रदर्शन से तो कभी उनके नाटकीय व अद्वितीय कारनामों से रोचकता व रोमांचकता बढ़ती ही जाती है। वैसे तो आँकड़ों और क्रिकेट में चोली-दामन का रिश्ता है; आँकड़े खिलाड़ियों की योग्यता को संक्षेप में प्रदर्शित कर पाते हैं।

Cricket : Khel Aur Niyam

एक क्रिकेट मुकाबले में 11 खिलाड़ियों के दो दल होते हैं। इसे घास के मैदान में खेला जाता है; जिसके केंद्र में भूमि की एक समतल लंबी पट्टी होती है; जिसे पिच कहते हैं। विकेट लकड़ी से बनी होती हैं; जिसे पिच के दो सिरों पर लगाया जाता है और उसका प्रयोग एक लक्ष्य के रूप में किया जाता है। गेंदबाज क्षेत्ररक्षण टीम का एक खिलाड़ी होता है; जो गेंदबाजी के लिए एक सख्त; चमड़े की मुट्ठी के आकार की 5.5 आउंस (160 ग्राम) वजन की क्रिकेट की गेंद को एक विकेट के पास से दूसरे विकेट की ओर फेंकता है; जिसे विपक्षी टीम के एक खिलाड़ी बल्लेबाज के द्वारा मारा जाता है।

click & buy

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here